Miscelleneous

आत्महत्या क्यों ?: इसे कैसे समाप्त किया जाये by अमित मिश्रा

Book blurb:

प्रिय पाठकों आजकल की भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में पैसे के पीछे भागना आम बात है| किसी को कहाँ किसी की परवाह है,कोई पैसो का मारा , कोई प्यार का मारा तो कोई अकेलेपन से परेशान है| ये पुस्तक मेरी समाज में आत्महत्या जैसे अभिशाप को रोकने की एक कोशिश है | इस पुस्तक में मैंने आत्महत्या जैसे कदम को आखिर एक इंसान क्यों चुन लेता है ,और इससे कैसे बचा जा सकता है इसके बारे में बताया है| आशा करता हूँ की मेरे इस प्रयास से इसमें कुछ कमी देखने को मिले,और मै आप सभी प्रिय पाठकों से भी अनुरोध करूंगा की इस पुस्तक को खुद भी पढ़े और लोंगो को भी पढ़ने को जरूर कहे,क्योंकि इसमें हर उस विषय को छुने का प्रयास किया गया है जिसकी वजह से लोंग आत्महत्या जैसे रास्ते को चुनते है| अगर वो इस सबके बारे में पहले से अवगत रहेंगे तो वो एैसे कदम की नहीं सोचेंगे और यही इस पुस्तक को लिखने के पीछे मेरा मकसद है|इस पुस्तक में आत्महत्या के सभी 20 कारणों के बारे में बताया गया है जो सीधे -सीधे 4 मुख्य कारणों से जुड़े हुऐ हैं |

Genre: Nonfiction/Sef-help

Pages: 48

Language: Hindi

Format: Kindle eBook

Price: 0 INR/$0.00

My Ratings: 3/5


Reasons for suicide and how to get over them. If you have ever felt like you’re not good enough or that the life you’re living needs to end, then read this book to find why and how this thinking can be overcome.

What I liked about the book:
—> It covers all the major reasons as to why a person would feel like ending their life.
—> It gives some great examples to make valid points.

What I did not like about the book:
—> The author refers to the readers as ‘Bacchon’ which can makes adult readers feel meh.
—> Tends to be preachy (but this might be because I’m not a fan of self-help and nonfiction books)

Quotable quotes:
—> ‘’ व्हाई बॉयज हैव आल दा फन’’ वाली सोच से बचे ये फन नहीं अपराध है|
—> प्यार एैसी चीज़ जो सबको एक ना एक बार हो ही जाता है |
—> क्या किसी भी परीक्षा मे असफल हो जाना आपकी जिंदगी में असफल हो जाने के बराबर है,इसके लिए आपको सफलता की परिभाषा को पहले समझना होगा|
—> आत्महत्या का रास्ता आप चुन रहे है तो दोषी आप होंगे|
—> यूँ ही समाज से भागते रहेंगे तो आप हमेशा भागते ही रहेंगे|
—> जिंदगी हर डगर पर परीक्षा लेती है|
—>कोई काम छोटा बड़ा नहीं होता आत्महत्या कर लेना सबसे छोटा काम है|
—>दो मछली तालाब को गंदा कर सकती है पर बाकी बची सारी मछलियों के दिलो को वो ख़राब नहीं कर सकती|
—> करियर दूसरों को देख कर नहीं अपने दिल दिमाग से सोच कर चुने|
—>ये भगवान की बनाई दुनिया सबको सुख दर्द दोनों देती है| किसी को भी केवल सुख ही सुख नहीं मिलेगा जीवन में ऐसी कल्पना नहीं करनी चाहिए क्योंकि ये सिर्फ कल्पना मात्र ही है|  हक़ीक़त यही है की आपको दुःख जरूर देखने को मिलेगा आपके जीवन में और आपको उसका सामना करना पड़ेगा| आप को दुःख को भी सहन करना आना चाहिए |
—> पैसे फिर से कमाए जा सकते है  लेकिन जिंदगी नहीं |
—> पैसा कभी जल्दी नहीं  आता,जल्दी आता  है तो वह उतनी जल्दी  वापस भी चला जाता है ,क्योंकि  गलत काम में आपको किसी न किसी दिन पकड़े जाना है और आपकी सारी धन दौलत वापस ले ली जाएगी|

Buying details:

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s